Powered by Learn Selenium Webdriver

Home / Creative Carvings / तेरे इश्क में

Powered by Inviul

तेरे इश्क में

 

 
मयखानें ने भी आज रुसवा कर दिया,
जब उसे पता चला हमने खुद को तुमसे जुदा कर दिया,
मय ने भी नशे को अलविदा कर दिया या,
जब मैंने हाथ छोडा़ और तुझे फना कर दिया।
 
इतनी थीं मोहब्बत की बदनाम हो गई,
समन्दर थीं फिर भी गुमनाम हो गई,
मयखाने में क्या मिलती उसको पनाह,
ये तो तेरे नशे में सरेआम हो गई।
 
इक कशिश थीं, उसका नशा था,
पयमाने ने भी छलक के दम तोड़ा था,
हमारी रूसवाई जब जुदाई हो गई,
मय की भी मयखाने से लड़ाई हो गई।

About Yogita Joshi

Check Also

Book Review : Key To My Soul By Probal Mazumdar

Book Review – Key To My Soul Author : Probal Mazumdar Genre : Romance Publisher …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

badge